DM Ka Full Form Kya Hai, DM Kya Hota Hai | डीएम से जुडी पूरी जानकारी 

दोस्तों, आज इस पोस्ट में मैं आपको DM ka full form kya hai, DM full form in India, DM kya hota hai, DM ke Kya kaam hai डीएम से जुडी पूरी जानकारी देने वाली हूँ.

 

D.M शब्द आप आये दिन किसी न किसी के मुहँ से सुनते ही रहते होंगे लेकिन हमेशा DM शब्द का मतलब same नहीं होता. डीएम शब्द का इस्तेमाल बहुत सी जगाहो पर किया जाता है लेकिन हर जगह अलग मतलब होता है.

 

DM (District Magistrate) जिला अधिकारी को कहा जाता है. जबके Social Media पर इसका मतलब बिलकुल अलग हो जाता है, अगर आपको किसी को Direct या फिर personal message करना है तो उसे DM कहते हैं.

 

मैं इस पोस्ट में आपको डीएम (जिला अधिकारी) के बारे में पूरी जानकारी दूंगी पोस्ट को पूरा पढ़े, जिससे आपको भी DM के बारे में पूरी जानकारी मिल सके. 

 

DM full form kya hai, D.M ka kya kaam hota hai, District Magistrate Salary, D.M ki padhai इत्यादि.

 

DP ka Full Form Kya hai

 

DM Kya Hota Hai?

 

D.M Kya Hota Hai
  • Save

 

D.M एक शोर्ट फॉर्म है जिसे कई जगह अलग-अलग चीजों के लिए इस्तेमाल किया जाता है वैसे तो आजकल इसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा सोशल मीडिया पर किया जाता है Facebook, Instagram, Twitter या फिर कोई भी सोशल मीडिया platform हो. 

 

उप्पर मैंने आपको Social media के लिए इस्तेमाल होने वाले DM का मतलब बता ही दिया है.

 

Digital Marketing, Digital Media, D.M (Doctorate of Medicine), Direct Marketing और भी बहुत से term हैं जहाँ DM short form का इस्तेमाल किया जाता है.

 

D.M full form in Government – Same वैसे ही जिला अधिकारी को short में DM (District Magistrate) कहा जाता है.

 

Ye bhi padhe:- 

 

Google kya hai – Janiye pura sach

5 Second me Photo Ka background kaise hataye

Online Aadhar card kaise check kare

 

DM Ka Full Form Kya Hai? – Full Name of D.M

 

DM Ka Full Form Kya Hai
  • Save

 

विभिन्न जगह इस्तेमाल किये जाने वाली Same शोर्ट फॉर्म:-

 

  • एक जिला अधिकारी के लिए डीएम की फुल फॉर्म | DM full form in Government:-

 

D – District

M – Magistrate

 

  • Social Media के लिए डीएम की फुल फॉर्म | Full form of DM in Social media:-

 

D – Direct

M – Message

 

  • Medical Line में डीएम की फुल फॉर्म:-

 

D – Doctorate of 

M – Medicine

 

तो चलिए आगे detail में एक जिला अधिकारी की पढ़ाई , वेतन, DM बनने के फायदे और किस आयु तक आप DM बन सकते हैं इसके बारे में जानते हैं.

 

DM Banne Ke liye योग्यता | DM Kaise Bane?

 

DM बनने के लिए आपको सबसे पहले सही जानकारी का होना बहुत जरुरी है, क्योंकि डीएम आप कभी भी किसी भी उम्र में नहीं बन सकते. इसके लिए जरुरी पढ़ाई और एक सही उम्र का होना बेहद जरुरी है.

 

अगर आप भी डीएम बनना चाहते है तो आप बिलकुल सही जगह आये हैं क्योंकि यहाँ आपको DM बनने के लिए किन चीजों की जरुरत पढ़ती है और DM के लिए क्या पढ़ाई करनी होती है सारी जानकारी मिलेगी.

 

DM Ke Liye Padhai – (How To Become DM)

 

First Step:- डीएम बनने के लिए आपको सबसे पहले किसी भी सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त कॉलेज या फिर यूनिवर्सिटी से Graduation पूरी करनी होगी. 

 

Second Step:- Graduation complete करने के बाद आपको IAS की तैयारी करनी होगी. बिना IAS बने आप D.M नहीं बन सकते.

 

IAS की तैयारी करने के बाद आपको UPSC द्वारा रखे गए exam CSE की परीक्षा को पास करना होगा. 

 

Ye bhi padhe:- 

 

Instagram par account kaise banaye

Apne Business ya phir Brand ka page kaise create kare

Google Drive me data save kaise kare

 

D.M Exam Ki Taiyari Kaise Kare – (UPSC Exam)

 

ये परीक्षा तीन चरण में होती है:-

 

  • प्रारम्भिक परीक्षा ( Preliminary Exam) 
  • मुख्य परीक्षा (Main Exam )
  • साक्षात्कार (Interview )

 

प्रारम्भिक परीक्षा ( Preliminary Exam) 

प्रारम्भिक परीक्षा में 2 पेपर होते है जो की 200-200 नंबर के होते है, Main Exam में जाने के लिए आपको इसको पास करना बहुत जरुरी है.

 

मुख्य परीक्षा (Main Exam )

Preliminary Exam पास करने के बाद ही आप इस परीक्षा को दे सकते हैं. इस परीक्षा में Total 9 exam होते हैं जो की 1750 अंक के होते हैं. एक बार आप मुख्य परीक्षा पास कर लेते है तब आपको साक्षात्कार (Interview) के लिए बुलाया जाता है.

 

साक्षात्कार (Interview)

यह चरण सबसे ज्यादा ख़ास और महत्त्वपूर्ण होता है क्योंकि इस चरण में आपका एजुकेशन और IQ level test किया जाता है.

 

इस Interview को आपकी चुनी हुई भाषा में लिया जाता है. जहाँ आपसे अलग अलग तरह के सवाल किये जाते है जैसा की मैंने बताया यहाँ आपका IQ level कितना high है और भी बहुत सी चीज़े check की जाती हैं.

 

एक बार जब आप साक्षात्कार interview clear कर लेते हैं तब आपको IAS का पद दे दिया जाता है. उसके बाद कुछ promotion मिलने के बाद आपको D.M बना दिया जाता है.

 

जहाँ D.M बनने की बात आती है वहां कहीं न कहीं उम्र को लेकर भी अक्सर सवाल खड़ा होता है.

 

तो चलिए जानते है डी.म बनने के लिए कितनी उम्र होना जरुरी है.

 

DM Age Limit (DM बनने के लिए आयु कितनी होनी चाहिए)?

 

D.M बनने के लिए इसको हर category के हिसाब से अलग-अलग रखा गया है:-

 

General:- अगर कोई भी व्यक्ति general वर्ग में आता है तो उसकी आयु 21-30 साल तक होना जरूरी है.

 

OBC:- इस वर्ग के लिए आयु सीमा 21-33 साल रखी गयी है, OBC वर्ग को General category के मुकाबले 3 साल extra दिए गए हैं

 

SC/ST:-  इस वर्ग के लिए उम्र सीमा 21-35 साल है, इस वर्ग को General वर्ग से 5 साल और OBC वर्ग से 2 साल extra दिए गए है.

 

DM Ke Kaam – Work of District Magistrate in Hindi

 

एक DM के बहुत से काम होते हैं क्योंकि उसके under एक पूरा जिला आ जाता है. तो आप खुद ही अनुमान लगा सकते है एक जिला अधिकारी का कितना काम रहता होगा. 

 

मैंने नीचे डीएम के कुछ मुख्य कार्य आपके साथ सांझा किये हैं:-

 

  • एक DM उसके under आने वाले district के सभी कार्यो को देखता है.
  • डीएम अपने अधिकार में आने वाले district की सभी कानूनी व्यवस्था का बनाये रखता है.
  • उस जिले में पूरे साल में जितने भी काम और अपराध हुऐ है सबकी रिपोर्ट सरकार तक पहुँचाता है.

 

District Magistrate का वेतन (Salary Of DM )

 

एक D.M का वेतन महीने का लाख रूपए या फिर उससे थोडा ज्यादा होता है. क्योंकि DM एक IAS officer बनने के बाद का पद है.

 

DM Banne Ke Fayde (Benefits of Become DM)

 

एक DM (District Magistrate) को सरकार की side से बहुत से लाभ मिलते है. जैसे की एक नीजी घर और गाडी तो मिलती ही है इसके अलावा और भी कई तरह के लाभ मिलते रहते हैं.

 

दूसरी और D.M बनने पर आपको इस पद के साथ बहुत सम्मान मिलता है. समाज में एक डीएम को बहुत ही अच्छी नज़र से देखा जाता है.

 

तो दोस्तों ये थे कुछ फायदे D.M बनने के इसके अलावा और क्या-क्या फायदे होते हैं वो तो खुद एक डीएम ही बता सकता है या आप DM बनने के बाद जान सकते हैं.

 

आप चाहें तो 👇नीचे दी गयी video को भी देख सकते हैं:-

 

Ye bhi padhe:- 

 

Delete hue Gmail account ko Recover kaise kare

Freelancing se ghar baithe paise kaise kamaye

Online Aadhar card download kaise kare

 

Final Words

 

दोस्तों, उम्मीद करती हूँ आपको अच्छे से समझ आ गया होगा DM ka full form kya hota hai, DM full name, How to become DM (District Magistrate).

 

फिर भी पोस्ट से जुड़ा आपका कोई भी सवाल है या फिर आप कुछ पूछना चाहते हैं तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं.

 

पोस्ट पसंद आई तो अपने बाकी दोस्तों के साथ Social media पर जरुर शेयर करे और ऐसे ही अपना सपोर्ट देते रहें.

 

अगर आप मुझसे YouTube पर जुड़ना चाहते है तो आप 👇नीचे बटन पर क्लिक करके मेरा चैनल SUBSCRIBE कर सकते हैं.

 

Visit YouTube Channel

 

इस चैनल पर आपको Blogging, How to create Blog, Make Money Online, Internet से जुडी जानकारी हिंदी में मिलती है.

 

स्वस्थ रहें, खुश रहें !!!

Nargis Praveen

Mai ek Blogger hu! Logo ki online help karne ke liye maine ye blog banaya hai. Jisse mai apna experience aur knowledge logo ke sath share kar saku aur aap bhi kuch naya seekh paaye.

2 thoughts on “DM Ka Full Form Kya Hai, DM Kya Hota Hai | डीएम से जुडी पूरी जानकारी ”

Leave a Comment

Share via
Copy link