CVV Full Form in Hindi क्या है | कार्ड सत्यापन कोड क्या है कैसे पता करें?

दोस्तों, अगर आप ATM, Debit card का इस्तेमाल करते हैं तो आपको CVV कोड क्या है, CVV full form in Hindi क्या होता है, इस बारे में पता होना बेहद जरुरी है. इस पोस्ट में आपको What is CVV Number, CVV full form in Banking, सीवीवी की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त होगी. पोस्ट को अंत तक पढ़ें.

CVV एक सिक्यूरिटी कोड होता है. जिसका उपयोग ऑनलाइन लेनदेन के समय किया जाता है. जैसे की ऑनलाइन खरीदारी, बिल भुगतान, रिचार्ज इत्यादि. सभी डिटेल्स भरने के बाद अंत में आपसे CVV कोड डालने के लिए कहा जाता है. जो की आपकी सभी लेनदेन को पूरा करता है.

चलिए अब जान लेते है आखिर सीवीवी फुल फॉर्म क्या है और कार्ड पर सीवीवी कैसे पता करें.

CVV Full Form in Hindi (सीवीवी का फुल फॉर्म क्या है)

CVV full form in Hindi
  • Save

सिविवी (CVV) का फुल फॉर्म Card Verification Value है. हिंदी में सीवीवी को कार्ड सत्यापन कोड कहते हैं. सीवीवी नंबर एक सुरक्षा कोड होता है. जो की आपकी ऑनलाइन लेनदेन को सुरक्षित रूप से पूरा करता है. आसान शब्दों में कहें तो CVV code ऑनलाइन फ्रॉड होने से बचाता है.

CVV Full form in English – Card Verification Value 

CVV Full form in Hindi –  कार्ड सत्यापन कोड

सिविवी (CVV) नंबर क्या होता है?

सीवीवी नंबर एक ऐसा नंबर होता है जो की ऑनलाइन लेनदेन के समय डेबिट/क्रेडिट कार्ड से जुड़े बैंक खाते को सत्यापित करके भुगतान को सुरक्षित रूप से पूरा करता है. ऑनलाइन transaction को पूरा करने के लिए आपके पास CVV नंबर होना जरुरी है इसके बिना आप ऑनलाइन पेमेंट को पूरा नहीं कर सकते हैं.

CVV एक पर्सनल आईडेंटिफिकेशन कोड होता है. जो की यह सत्यापित करता है पेमेंट आपके द्वारा ही की जा रही है या नहीं. अगर आपका कार्ड खो जाता है, चोरी हो जाता है या फिर आपने अपना कार्ड किसी दोस्त को दिया है, तो वह आपके CVV नंबर का उपयोग करके कार्ड के माध्यम से ऑनलाइन पेमेंट कर सकते हैं. इसलिए अपने डेबिट/क्रेडिट कार्ड को संभाल कर रखें. अपना डेबिट कार्ड पिन भी किसी को न बताये अन्यथा वह व्यक्ति आपके कार्ड का इस्तेमाल करके ATM से पैसे निकाल सकता है.

Note:- ऑनलाइन लेनदेन करते समय आपके रजिस्टर्ड नंबर पर एक OTP कोड आता है, जिसको सबमिट करने के बाद ही आपका लेनदेन पूरा होता है. इसलिए अपना OTP कोड किसी को ना बतायें.

CVV को CSC के नाम से भी जाना जाता है. CSC की फुल फॉर्म Card Security Code है. दोनों एक ही हैं और दोनों का काम ऑनलाइन लेनदेन को सुरक्षित रूप से पूरा करना है.

सीवीवी (CVV) की जरूरत क्यों और कब पड़ती है? 

CVV कोड हमारे बैंक खाते से लिंक होता है. जब भी हम कोई ऑनलाइन भुगतान करते हैं तब हमें पेमेंट करने के लिए सीवीवी नंबर डालना होता है. CVV कोड द्वारा हमारे डेबिट/क्रेडिट कार्ड से जुड़े बैंक खाते को वेरीफाई किया जाता है. वेरिफिकेशन पूरा करने के बाद भुगतान काट लिया जाता है. अब आपको समझ आ गया होगा आखिर CVV की जरुरत क्यों और कब पड़ती है.

अगर आपको कभी भी आपके मोबाइल फ़ोन पर किसी व्यक्ति का कॉल आता है, और वह आपसे आपका डेबिट/क्रेडिट कार्ड नंबर, CVV या फिर OTP कोड मांगता है. तो कभी भी यह जानकारी किसी को साझा न करें अन्यथा आपके बैंक खाते का सारा पैसा निकाल लिया जा सकता है. इसलिए सावधान रहकर समझदारी दिखाएँ और यह गोपनीय जानकरी किसी को न बतायें.

CVV और CVC दोनों में क्या अंतर है?

सीवीवी और सीवीसी कार्ड में किसी तरह का कोई अंतर नहीं होता. दोनों सिक्यूरिटी कोड होते हैं. जिनका काम ऑनलाइन लेनदेन को सुरक्षित करना होता है. बस कुछ कार्ड CVV की जगह CVC नाम का उपयोग करते हैं. इन कार्ड के बारे में मैंने नीचे बताया है.

  • CVV – Card Verification Value इसका उपयोग Visa card में किया जाता है.
  • CVC – Card Validation Code इसका उपयोग Mastercard में किया जाता है.

सीवीवी नंबर कितने अंक का होता है?

CVV नंबर कुछ कार्ड में 4 अंक और कुछ में 3 अंक का होता है. American Express में CVV नंबर 4 अंको का और Mastercard/Visa card में 3 अंको का होता है. दोनों का काम एक ही रहता है.

CVV Number कैसे पता करें, ये कहाँ होता है?

सिविवी नंबर American express कार्ड में आगे की तरफ होता है. जो की आपके कार्ड नंबर के आसपास होता है. जबकि Mastercard/Visa card में ये पीछे की तरफ Magnetic Strip के नीचे छपा होता है. आप नीचे फोटो में भी देख सकते हैं.

  • Save
Image Credit IDFC First Bank
CVV कोड को किसने बनाया?

सिविवी कोड का अविष्कार Michael Stone द्वारा 1995, UK में किया गया था. CVV कोड शुरू में बहुत लम्बा हुआ करता था, यह 11 अंको का कोड होता था. लेकिन बाद में इसे घटा कर तीन, चार अंको का कर दिया गया. ज्यादातर डेबिट, क्रेडिट कार्ड में तीन अंको का सिविवी कोड होता है.

सिविवी से जुड़े सवाल जवाब (CVV FAQs) 

सीवीवी फुल फॉर्म क्या होता है?

सीवीवी का फुल फॉर्म Card Verification Value होता है, हिंदी में इसे कार्ड सत्यापन कोड भी कहते हैं. यह एक सुरक्षा कोड होता है जो की आपके ऑनलाइन transactions को सिक्योर रखता है.

सीवीवी नंबर कौन से होते हैं?

सिविवी नंबर यानी के Card Verification Value 3 अंको का होता है. जो की कार्ड के पीछे Magnetic Strip के बिलकुल नीचे छपा होता है. 

एटीएम में सीवीवी नंबर कौन से होते हैं?

एटीएम में सीवीवी नंबर तीन अंको के होते हैं, जो की आपके ऑनलाइन भुगतान को सुरक्षित रखते हैं. CVV नंबर आपके एटीएम कार्ड के पीछे काली पट्टी (चुम्बकीय पट्टी) के नीचे छपे होते हैं.

सीवीवी कोड कितने नंबर का होता है?

सीवीवी कोड आमतोर पर तीन अंको का होता है. लेकिन अमेरिकन एक्सप्रेस कार्ड में CVV नंबर 4 अंको का होता है.

निष्कर्ष

दोस्तों, इस पोस्ट में मैंने आपको CVV ka full form kya hai, CVV full form in Hindi, Full form of CVV क्या होता है, सिविवी नंबर क्या होता है (What is CVV number) और इसे कैसे पता करें. इस बारे में डिटेल जानकारी दी है. पोस्ट पसंद आये तो सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले.

पोस्ट से जुड़ा आपका कोई भी सवाल है या फिर आप कुछ पूछना चाहते हैं तो आप कमेंट में पूछ सकते है. आपको आपके सवाल का जवाब जरुर मिलेगा.

अगर आप हमारी कम्युनिटी से जुड़ना चाहते हैं, तो हमारा टेलीग्राम चैनल ज्वाइन करें.

ये भी पढ़े:-

Nargis Praveen

Mai ek Blogger hu! Logo ki online help karne ke liye maine ye blog banaya hai. Jisse mai apna experience aur knowledge logo ke sath share kar saku aur aap bhi kuch naya seekh paaye.

Leave a Comment

Share via
Copy link