OTP Ka Full Form Kya Hai | What is OTP in Hindi (फायदे और नुकसान)

दोस्तों, अगर आप ये search करके यहाँ आये हैं OTP Kya hai (What is OTP in Hindi), OTP ka full form kya hai. तो ज़ाहिर सी बात है आप इन्टरनेट का इस्तेमाल करते हैं. और OTP शब्द आपने अक्सर सुना ही होगा. जब से इन्टरनेट आया है तब से digitally कुछ ना कुछ नया इंटरनेट पर आता ही रहता है.

OTP शब्द कुछ नया नहीं है इसे काफी समय से इस्तेमाल किया जा रहा है. लेकिन अगर आप एक नए इन्टरनेट user है तो ये शब्द आपके लिए नया ही होगा. जैसे-जैसे इन्टरनेट का इस्तेमाल तेज़ी से बढ़ रहा है वैसे ही ऑनलाइन इस्तेमाल की जा रही services से भी खतरा बढ़ता जा रहा है.

वैसे कहने को तो इंटरनेट के बहुत से लाभ हैं, लेकिन इसके साथ साथ बहुत से नुकसान या फिर कहें तो एक तरह का खतरा भी है. सबसे ज्यादा खतरा है ऑनलाइन बैंकिंग का. आज के समय में आप आये दिन सुनते ही रहते होंगे, उसके बैंक से इतने पैसे निकल गए या कंपनी से फ़ोन आया और OTP बताते ही उसका सारा पैसा बैंक खाते से काट लिया गया.

आये दिन बैंक खाते से पैसे निकल जाने की खबर आपको भी मिलती होगी. तो इन सभी खतरों से छुटकारा पाने के लिए OTP यानि के ONE TIME PASSWORD का इस्तेमाल किया जाता है. जो की आपके registered मोबाइल नंबर पर send किया जाता है.

जब आप ऑनलाइन पैसो का लेन देन करते हैं या फिर किसी भी तरह की ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं तब ऑनलाइन पेमेंट करते टाइम लास्ट में आपके नंबर पर एक 6 digit का OTP code भेजा जाता है. जो की आपकी बैंकिंग को सुरक्षित रखता है. तो चलिए आगे विस्तार में जानते हैं OTP Kya hai और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है.

One Time Password Kya Hai? (OTP Kya Hai)

OTP Ka Full Form Kya Hai
  • Save

ऑनलाइन लेन-देन को सुरक्षित रखने के लिए OTP (One Time Password) का इस्तेमाल किया जाता है. जैसे की आप इसके नाम से ही समझ गये होंगे One Time Password यानी के एक बार use होने वाला पासवर्ड. जो की उपयोगकर्ता के पंजीकृत नंबर पर भेजा जाता है. ये ऑनलाइन फ्रॉड से बचाता है और आपकी बैंकिंग को सुरक्षित रूप से पूरा करता है.

बहुत से सोशल मीडिया अकाउंट या फिर Gmail account पर भी One Time Password का इस्तेमाल किया जाता है. जिससे अगर आप कभी अपना पासवर्ड भूल भी जाते है तो रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की मदद से आप अपना पासवर्ड reset कर सकते हैं.

क्योंकि आपके registered mobile number पर एक OTP code भेजा जाता है जिससे आपकी पहचान होती है और उसके बाद ही आपके द्वारा बदली गयी settings को save किया जाता है.

अगर आपने अपने किसी दोस्त या फिर परिवार के सदस्य को अपना पासवर्ड बताया हुआ है. या कोई भी आपका password बदलने की कोशिश करता है, तो OTP आपके नंबर पर आने की वजह से अकाउंट हैक होने का खतरा आपको बिलकुल नहीं रहेगा.

Ye bhi padhe:-

OTP Ki Full Form Kya Hai (Full Form of OTP in Hindi)

OTP एक ऐसा शब्द है जिसके बारे में आपको पता होना जरूरी है. अगर आप ऑनलाइन शॉपिंग, नेट बैंकिंग, या  फिर इंटरनेट का इस्तेमाल अक्सर करते रहते हैं.

वैसे जो लोग इंटरनेट चलाते हैं या ऑनलाइन शॉपिंग करते हैं, तो उनमे से भी कुछ ऐसे लोग होते है जिन्हें OTP की फुल फॉर्म नहीं पता होती. मैंने नीचे आपको OTP Full Form Kya hai के बारे में डिटेल में बताया है.

OTP full form in English

One Time Password

OTP full form in Hindi

एक बार use किया जाने वाला पासवर्ड

O ONE 

T TIME 

P – PASSWORD

Note:- OTP कोड कुछ समय के लिए ही valid होता है. यह उस वेबसाइट पर निर्भर करता है जिसका use आप कर रहे होते हैं. OTP code आपको किसी के भी साथ शेयर नहीं करना चाहिए.

OTP Kitni Tarah Ke Hote Hai?

मोबाइल नंबर पर भेजे गए OTP code के बारे में तक़रीबन सभी लोग जानते है जो इन्टरनेट या फिर स्मार्ट फ़ोन का इस्तेमाल कर रहे होते हैं. आज मैं आपको ऐसे 2 और OTP के बारे में बता रही हूँ जिनका use करके भी आप ऑनलाइन फ्रॉड से बच सकते हैं.

OTP Types

  1. SMS:- जो की आपके registered मोबाइल नंबर पर भेजा जाता है. यह OTP code का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला तरीका है.
  2. Voice Calling:- जब आप किसी वेबसाइट पर account बनाते है या ऑनलाइन बैंकिंग करते हैं तब कुछ websites में आपको Voice Calling से OTP प्राप्त करने का विकल्प दिया जाता है.
  3. Email:- अगर आप email का इस्तेमाल करते है तो आपको बता दें आप Email id द्वारा भी OTP प्राप्त कर सकते हैं. बशर्ते वो वेबसाइट email द्वारा OTP सेंड करती हो.

Ye bhi padhe:-

OTP Ka Use Kahan or Kab Kiya Jata Hai?

OTP का इस्तेमाल ऑनलाइन शॉपिंग, नेट बैंकिंग, सोशल मीडिया या फिर इंटरनेट का इस्तेमाल करने पर कई जगह किया जाता है.

अब बात करते है कब किया जाता है? जब आप ऑनलाइन शॉपिंग करते टाइम अपने बैंक या फिर कार्ड की डिटेल भरते हैं, उसके बाद लास्ट में आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP (One Time Password) भेजा जाता है.

जिसकी मदद से आपका ऑनलाइन लेन-देन सुरक्षित रूप से पूरा होता है.

OTP को आसान शब्दों में कहें तो ये एक Online Security Guard के रूप में काम करता है. जो की आपके बैंक खाते, सोशल मीडिया accounts ऑनलाइन शॉपिंग को Online Fraud Activity से Secure रखता है.

Note:- अगर आपके नंबर पर कभी भी आपके बैंक के नाम से कॉल आये और वो आपको आपके ATM कार्ड के पीछे दिए CVV नंबर या आपके रजिस्टर्ड नंबर पर भेजे गए OTP की मांग करें तो तुरंत उसकी रिपोर्ट अपने बैंक को दर्ज करायें. क्योंकि बैंक कभी भी इन चीजों की मांग नहीं करता. ये ऑनलाइन फ्रॉड का एक तरीका है.

OTP Ke Fayde Kya Hai

OTP (One Time Password) के फायदे ही फायदे हैं. अगर बात करें ऑनलाइन बैंकिंग की तो ये आपके पैसों के लेन देन को सुरक्षित रूप से पूरा करने में मदद करता है. 

Social Media या फिर Gmail account का पासवर्ड भूल जाने पर आप OTP की मदद से फिर से पासवर्ड reset कर सकते हैं.

OTP सिर्फ कुछ समय के लिए valid होता है जैसे की 10 से लेकर 30 मिनट तक. या फिर इस्तेमाल की जाने वाली वेबसाइट के नियम अनुसार. जिससे online fraud का खतरा बहुत कम रहता है.

OTP Ke Nuksaan Kya Hai?

एक इंटरनेट उपयोगकर्ता के लिए OTP कोड का कोई नुकसान नहीं हैं. लेकिन एक ऑनलाइन फ्रॉड करने वाली कंपनी या एक hacker के लिए OTP के बहुत से नुकसान है.

OTP से जुड़े सवाल (OTP Related FAQS)

ओटीपी नंबर को हिंदी में क्या कहते हैं?

ओटीपी नंबर को हिंदी में एक बार उपयोग किया जाने वाला पासवर्ड कहते हैं.

6 अंकों का OTP नंबर क्या है?

ऑनलाइन भुगतान करते समय आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर जो 6 अंको का कोड आता है उसे ही OTP कहा जाता है.

ओटीपी का नाम क्या है?

ओटीपी का नाम One Time Password होता है.

ओटीपी कितने अंक का आता है?

डिजिटल भुगतान करते समय आपके द्वारा की जा रही Transaction को सही तरीके से पूरा करने के लिए आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP भेजा जाता है ओटीपी 6 अंको का होता है.

ओटीपी ना आए तो क्या करें?

ओटीपी ना आने पर Resend पर क्लिक करके OTP प्राप्त करने के लिए अनुरोध करें.

Conclusion

दोस्तों, उम्मीद करते हैं आपको अच्छे से समझ आ गया होगा OTP Kya hai (What is OTP in Hindi), OTP ka full form kya hai और इसके फायदे नुकसान क्या क्या है.

फिर भी पोस्ट से जुड़ा आपका कोई भी सवाल है, या आप कुछ पूछना चाहते हैं तो कमेंट करके जरुर बतायें.

अगर आप इस ब्लॉग के Latest updates पाने चाहते है तो आप मुझे Facebook Page पर भी फॉलो कर सकते हैं या फिर इस ब्लॉग के Notifications ON करके सभी लेटेस्ट अपडेट पा सकते हैं.

स्वस्थ रहें, खुश रहें !!!

Nargis Praveen

Mai ek Blogger hu! Logo ki online help karne ke liye maine ye blog banaya hai. Jisse mai apna experience aur knowledge logo ke sath share kar saku aur aap bhi kuch naya seekh paaye.

Leave a Comment

Share via
Copy link
Powered by Social Snap